23-Oct-2014 15:34:32 Agent Reply :gopalganjnews@gmail.com
Gopalganj News

पर्ची में भी दलाली, भुगतान के लिए रो रहे हम

27, Mar 2014

(गोपालगंज): गन्ना के गलियारों में झुलस रहे गन्ना किसानों ने इस बार लोकसभा चुनाव मैदान में उतरे प्रत्याशियों की कड़ी परीक्षा लेने का मूड बना लिया है। तीखे सवाल लेकर गन्ना किसान इस बार प्रत्याशियों की जीत की राह में खड़े होने लगे हैं। जाहिर है इस परीक्षा में जो प्रत्याशी तप कर निकलेगा, उसे ही गन्ना किसानों का समर्थन भी मिलेगा।

बुधवार को गन्ना के गलियारे में अपनी आवाज मिलाने कार्यालय पहुंचे गन्ना किसानों का मिजाज उनकी परेशानी को साफ जाहिर कर रहा था। व्यवस्था के मकड़जाल में उलझे गन्ना किसान तैश में थे, पर उनके चेहरे पर उनकी बेबशी की लकीरें भी साफ दिख रही थी। सिधवलिया के गन्ना किसान रामेश्वर यादव बताते हैं कि पर्ची के लिए भी दलाली दे रहे हैं और भुगतान के लिए भी रो रहे हैं। वे कहते हैं कि गन्ना किसान पूरी तरह चीनी मिलों के रहमोकरम पर हैं। सरकार करोड़ों रुपये गन्ना किसानों के नाम पर खर्च कर रही है। लेकिन व्यवस्था ऐसी कि किसानों के हाथ सिर्फ परेशानी ही आ रही है। गन्ना किसानों ने बताया कि पहले गन्ना विकास विभाग के माध्यम से उन्हें बीज-खाद से लेकर अन्य अनुदान मिलता था। तब स्थिति कुछ ठीक थी। पिछले साल से सरकार सीधे चीनी मिलों को रुपया भेजने लगी है। तभी से परेशानी और बढ़ गयी है। वे कहते हैं कि इस बार लोकसभा चुनाव में हम अपनी परेशानियों का पूरा हिसाब लेंगे। अपना समर्थन उसे ही देंगे, जो हमारी समस्याओं की तरफ ध्यान देगा।

कहते हैं गन्ना किसान

हमारी परेशानी भी सुनें

फोटो फाइल: 26जीपीएल 10

इस बार चुनाव में जो किसानों के हित की बात करेगा और हमारी समस्याओं पर ध्यान देगा, उसे ही हम अपना समर्थन देंगे। आज की व्यवस्था से हम काफी परेशान हो चले हैं।

होरिल सिंह

गन्ना किसान

घटतौली क्यों नहीं रोकते

फोटो फाइल: 26जीपीएल 11

गन्ना किसान घटतौली को लेकर परेशान हैं। पर, न प्रशासन इस तरफ ध्यान दे रहा है और ना ही जनप्रतिनिधि। जो किसानों की हित की सोचेगा, हम उसी के साथ जाएंगे।

चंद्रसेन सिंह

गन्ना किसान

दलाल हमारी काट रहे जेब

फोटो फाइल: 26जीपीएल 12

अपनी जरूरतों को पूरा करने के लिए हम गन्ना लगाते हैं। लेकिन चीनी मिल और दलाल हमारी जेब काट रहे हैं। पर्ची के नाम पर ही बीस प्रतिशत दलाल ले लेते हैं। मजबूर किसान उनके आगे विवश हैं।

मोहन प्रसाद यादव

गन्ना किसान

गंडक व व्यवस्था कर रही तबाह

फोटो फाइल: 26जीपीएल 13

दियारा इलाके के किसान एक तरफ गंडक नदी के कटाव तो दूसरी तरफ व्यवस्था से तबाह हो रहे हैं। चीनी मिलों की मनमौजी से दियारा इलाके के किसान काफी परेशान हैं। जो हमें समस्या से निजात दिलाएगा, उसी को समर्थन देंगे।

रमेश सिंह

गन्ना किसान

First   <<  1  >> Last

Dr.O.P.Tiwari
This is an example of a HTML caption with a link.
Latest News Video
Copyright 2012 - 13 © gopalganjnews.com All Right Reserved
Website Developed & Maintained By SBeta Technology