एस्सार स्टील का एनपीए बेचेगा SBI

Published On: January 17, 2019 at 10:33 AM 0 Comments R Baranwal

नई दिल्ली (बिजनेस डेस्क)। भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआइ) ने एस्सार स्टील से संबंधित 15,000 करोड़ रुपये से ज्यादा के फंसे कर्ज (एनपीए) बेचने की अलग से की योजना बनाई है। वैसे एसबीआइ की ही अगुआई वाली एस्सार स्टील की कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स (सीओसी) ने आर्सेलरमित्तल की समाधान योजना को मंजूरी दी है। लेकिन माना जाता है कि बैंक ने समाधान योजना लागू होने में देरी के चलते अलग से एनपीए बेचने का फैसला किया है।

बैंक ने एक विज्ञापन जारी करके कहा है कि उसने कुल 15,431 करोड़ रुपये के एनपीए की बिक्री करने के लिए बैंक, असेट रिकंस्ट्रक्शन कंपनी (एआरसी), एनबीएफसी और वित्तीय संस्थानों से अभिरुचि पत्र (ईओआइ) आमंत्रित किए हैं। बैंक ने इसके लिए 9,587.64 करोड़ रुपये रिजर्व प्राइस तय किया है। एसबीआइ के अनुसार एनपीए की वसूली के लिए उसने नेशनल कंपनी लॉ टिब्यूनल (एनसीएलटी) अहमदाबाद में केस दायर किया था। मंजूर की गई समाधान योजना के तहत बैंक को न्यूनतम 11,313.42 करोड़ रुपये की वसूली होनी थी। हालांकि तब से एक साल का वक्त गुजर जाने के कारण न्यूनतम रिकवरी में 18 फीसद डिस्काउंट करके नेट प्रजेंट वैल्यू (एनपीवी) के आधार पर 9,587 करोड़ रुपये रिजर्व प्राइस तय किया गया है।

एसबीआइ ने एस्सार स्टील का एनपीए खरीदने की इच्छुक कंपनियों से कहा है कि अभिरुचि पत्र दाखिल करके और बैंक के साथ नॉन डिसक्लोजर एग्रीमेंट (एनडीए) पर हस्ताक्षर करके असेट की जांच कर सकती हैं। ई-ऑक्शन के जरिये एनपीए असेट की बिक्री 30 जनवरी को होगी। बैंक ने कहा है कि वह असेट की बिक्री का प्रस्ताव किसी भी स्तर पर बिना कोई कारण बताए आबीआइ की गाइडलाइन के अनुसार वापस ले सकता है।

पिछले साल सितंबर में बैंक ने एस्सार स्टील का एनपीए एआरसी को बेचने की प्रक्रिया वापस ले ली थी क्योंकि नेशनल कंपनी लॉ टिब्यूनल अपीलेट टिब्यूनल (एनक्लैट) ने एस्सार स्टील के कर्जदाताओं को दूसरे दौर में दाखिल न्यूमेटल और माइनिंग उद्योगपति अनिल अग्रवाल के वेदांता ग्रुप की बोलियों पर विचार करने का निर्देश दिया।

गुजरात में एक करोड़ टन क्षमता की स्टील मिल संचालित करने वाली एस्सार स्टील पर 49,000 करोड़ रुपये से ज्यादा देनदारी है। इसमें एसबीआइ समेत एक दर्जन से ज्यादा बैंकों का कर्ज भी बाकी है। आर्सेलरमित्तल ने पिछले साल 42,000 करोड़ रुपये की समाधान योजना पेश की। इसके अलावा वह 8,000 करोड़ रुपये कंपनी में वर्किग कैपिटल के रूप में निवेश करेगी।

इस योजना को कंपनी की कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स (सीओसी) ने मंजूरी दे दी। लेकिन रुइया परिवार की नियंत्रण वाली एस्सार स्टील की होल्डिंग कंपनी एस्सार स्टील एशिया होल्डिंग ने एसबीआइ के नेतृत्व वाली सीओसी को 54,389 करोड़ रुपये का प्रस्ताव दिया ताकि वह एस्सार स्टील का प्रबंधन अपने हाथों में ले सके। पिछले सप्ताह एनसीएलटी की अहमदाबाद बेंच ने एस्सार स्टील एशिया होल्डिंग की बोली पर अपना फैसला सुरक्षित किया था। 

Source: https://www.jagran.com/business/biz-sbi-plans-to-sell-essar-steel-npas-worth-over-rupees-15000-crore-to-recover-dues-18862808.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

  • Slide 1
  • Slide 2
Copyright © 2020 Gopalganjnews. All Rights Reserved.
Powered by SBeta TechnologyTM
WP2Social Auto Publish Powered By : XYZScripts.com